Share this post

इन 10 लक्षणों से लगा सकते हैं एक महीने पहले हार्ट-अटैक का अंदाज़ा

आजकल की बदली हुई जीवन-शैली और खानपान की वजह से दिल के मरीजों की संख्या लगातार बढ़ रही है। किसी को कब दिल का दौरा पड़ जाए, इस बारे में एक आम व्यक्ति ज़्यादा कुछ नहीं जानता। फिर भी कुछ ऐसे लक्षण हैं जो लगभग एक महीने पहले ही होने लगते हैं। अगर इन्हें समय पर पहचान लिया जाए तो मरीज़ की जान बचाई जा सकती है।

दिल के मरीज़ों को इन लक्षणों को गंभीरता से लेना चाहिए। 

इन 10 लक्षणों से लगा सकते हैं एक महीने पहले हार्ट-अटैक का अंदाज़ा

इन 10 लक्षणों से लगा सकते हैं एक महीने पहले हार्ट-अटैक का अंदाज़ा

754 396
  in Health & Fitness

सीने में दबाव 

सीने में दबाव 

हार्ट अटैक यानि दिल के दौरे का मुख्य लक्षण है सीने में दबाव। अगर किसी मरीज़ को अचानक से सीने में दर्द की शिकायत होने लगे तो डॉक्टर से मिलने में देर नही करनी चाहिए।

ज्वर भी देता है संकेत 

ज्वर भी देता है संकेत 

कई मरीजों को दिल का दौरा पड़ने से पहले वायरल फ्लू की शिकायतों की बात सामने आती है। इसलिए यह ज़रूरी है कि इसकी जाँच की जाए।

कमजोरी और थकावट 

कमजोरी और थकावट 

खून शरीर के लिए सबसे ज़रूरी तत्व होता है। खून के प्रवाह में अनियमितता की वजह से शरीर में कमज़ोरी और थकावट आ जाती है। इसीलिए अगर एकदम से शरीर में थकावट और कमजोरी महसूस होने लगे तो इसकी जाँच कराई जानी अत्यंत आवश्यक है। 

सांसों की लम्बाई कम हो जाना 

सांसों की लम्बाई कम हो जाना 

हार्ट अटैक (ह्रदयाघात) की संभावना होने पर साँस लेने में तकलीफ होने लगाती है। खून का प्रवाह अनियमित होने की वजह से फेफड़ों की कार्यक्षमता भी कम हो जाती है और सांसें अमूमन छोटी हो जाती हैं। 

ठंडा पसीना आना 

ठंडा पसीना आना 

अगर आपका पसीना ठंडा है तो इस बात की संभावना है कि आपको दिल का दौरा हो सकता है। अगर आपको बिना कारण के पसीना आ रहा है तो अपने डॉक्टर से संपर्क करें।

सिर चकराना और बेहोशी आना 

सिर चकराना और बेहोशी आना 

दिल की गति अनियमित होने पर मस्तिष्क तक पर्याप्त खून नहीं पहुँच पाता है। इसके कारण कई दफा सिर चकराने या बेहोशी जैसे हालात भी बन जाते हैं।

बदन दर्द की शिकायत 

बदन दर्द की शिकायत 

शरीर के अलग-अलग हिस्सों जैसे कमर, गर्दन, जबड़ा आदि में जकड़न और दर्द बना रहे तो डॉक्टर से सलाह जरूर करें। कभी-कभी शरीर के एक हिस्से में दर्द उठता है और धीरे-धीरे दिल की तरफ़ बढ़ने लगता है। ऐसी स्थिति में तुरंत सतर्क हो जाना चाहिए।

तेज़ धड़कन 

तेज़ धड़कन 

दिल की धड़कन अगर बिना किसी निश्चित कारण के एकदम से बढ़ जाए तो यह भी आपके लिए हानिकारक है। 

जी मचलना और उलटी होना 

जी मचलना और उलटी होना 

हांलाकि इस तरह की समस्याएं आम होती हैं। लेकिन दिल का दौरा पड़ने से पहले अक्सर इस तरह के लक्षण मरीजों में देखें जाते हैं। अगर आप दिल के मरीज़ हैं तो इन लक्षणों को हल्के में न लें।

लगातार घबराहट होना 

लगातार घबराहट होना 

लगातार होने वाली चिंता को किसी दूसरे कारण विशेष से जोड़कर नहीं देखना चाहिए। अगर लगातार घबराहट बनी रहे और रात में अचानक घबराहट के साथ उठना जैसी समस्या हो तो भी सावधान हो जाना ज्यादा बेहतर है। 

क्या आप नियमित रूप से अपना मेडिकल चेक-अप करवाते हैं?

others like

Loved this? Spread it out then

Report

close

Select you are Reporting

expand_more
  • GreenPear
  • GreenPear
  • GreenStrawberry
  • GreenStrawberry
  • RedApple
  • RedApple
  • +2351 Active user
Post as @guest useror
stop

NSFW Content Ahead

To access this content, confirm your age by signing up.