Share this post

इंदौरी चच्चा: भिया पैसे के लाले सिर्फ तुमको ही नहीं पड़ रहे! 

भियाओ राम!  भिया गजब के व्यक्ति हैं मोदी जी भी पूरे देश की नींद उड़ा के खुद आराम से जापान चले गए। भिया तुम्हारी कसम खा के केरिया हूँ मतलब लोगों ने पैसे मांग-मांग के परेशान कर दिया जो देखो वो यही बोले यार 500 के खुल्ले दे दे। भिया कुछ तो ऐसे भी लोग थे जो कल तक केते थे चच्चा तुम्हारी कसम खा रिया ज़ेर खाने के भी पैसे नहीं है वो भी अगले दिन 1000 का नोट लियाया चच्चा खुल्ला है क्या? बताओ आप मतलब भिया आज की हालत में इंसानियत तो बची ही नहीं है। और ऐसा नी है सिर्फ आम व्यक्तियों की हालत खराब थी, भिया अच्छे-अच्छे पानी मांग गए आप खुद देख लो!      

इंदौरी चच्चा: भिया पैसे के लाले सिर्फ तुमको ही नहीं पड़ रहे! 

इंदौरी चच्चा: भिया पैसे के लाले सिर्फ तुमको ही नहीं पड़ रहे! 

754 396
logo
  in Humor

राहुल बाबा को भी लगना पड़ा लाइन में 

राहुल बाबा को भी लगना पड़ा लाइन में 

भिया ऐसा नी है की सिर्फ आप ही परेशान हो कांग्रेस पर फ़ोकट में थोपे गए राजकुमार को भी पैसों के लिए लाइन में लगना पड़ा। भिया तुम्हारी कसम खा के करिया हूँ यह पैसा चीज़ बहुत बुरी है। तुम सब से भी मेरा एक ही कहना है, मोह माया त्याग दो सारे पैसे मेरे नाम कर दो और सब तीरथ चले जाओ मैं यहाँ सब सम्भाल लूँगा।   

राहुल गांधी बैंक में पैसे निकालने आये 

राहुल गांधी बैंक में पैसे निकालने आये 

भिया सबसे ज्यादा तो मौके का फायदा लिया अपने राहुल बाबा ने मतलब इस्कू केते हैं एक तीर से तीन शिकार। अब तुम बोलोगे चच्चा तो कहावत ही बदल रे है पर तुम भी तो देखो कहावत भी किसके लिए बोली जा रही है।   

लोगों का दर्द बाँटने आये थे राहुल 

लोगों का दर्द बाँटने आये थे राहुल 

राहुल बाबा का कहना है वो लोगों का दर्द बाँटने आये थे। मतलब भिया 15 मिनिट में राहुल बाबा लोगों का दर्द भी बाँट गए, अपने लिए वोट भी मांग लिए और पट्ठे ने नोट भी निकाल लिए। इस्कू केते हैं एक तीर से तीन निशाने। भिया अब तो समझ गिए होगे न आप।  

चार हज़ार रूपए ले कर बैंक पहुँचे राहुल 

चार हज़ार रूपए ले कर बैंक पहुँचे राहुल 

भिया मतलब सत्ता कित्ती जरुरी है देखलो आप चार हज़ार रुपये के लिए कांग्रेस के चिराग को धक्के खाने पड़े।  मैं तो के रिया हूँ भिया किसी को भी भगवान राहुल बाबा जैसे दिन नी दिखाए एक तो बहु नी मिल री दूसरा बहुमत नी मिलरा और अब नोट नी मिल रिये।  मुसीबत आती है तो चारो तरफ से ही आती है।   

जब तक नोट नहीं बदला जाते में यही खड़ा रहूँगा 

जब तक नोट नहीं बदला जाते में यही खड़ा रहूँगा 

इस बीच राहुल गांधी ने कहा जब तक मेरे मेरे नोट नहीं बदल दिए जाते मैं यही खड़ा रहूँगा। भिया राहुल जी तुम्हारे नोट कौन नी बदलेगा तुम्हारा धन कोई काला धन थोड़े ही है। आपकी तो पाई-पाई खरे पसीने की है और आपकी ही क्यों एक-एक  नेता की कमाई खरे पसीने की है क्यों राहुल जी सई है नी!   

नी पेले तू सेल्फी खीच ले 

नी पेले तू सेल्फी खीच ले 

मतलब भिया घर से घर वाली ने मार-मार के बैंक भेजा होगा और भिया राहुल बाबा को देख के सेल्फी लेने चले गया। अब यह फेसबुक पे पोस्ट करेगा फिलिंग एंजॉय विथ राहुल बाबा इन बैंक लाइन में खड़े होविंग।  

भिया बात तो काले धन की हुई थी 

भिया बात तो काले धन की हुई थी 

भिया मोदी जी बैमानी खेल गए बात तो उनने ये की थी इस कदम से काला धन बहार निकलेगा पर इस कदम ने तो कांग्रेस के गोर धन को बहार निकाल दिया। मैं जानता हूँ आधे लोगों को मेरी बात समझ में नी आई होगी।  होता है भिया होता है देश में खाली सोनिया गांधी की ही फसल नी बिगड़ी है और भी कई सारे लोगों की बिगड़ी है।  

क्या राहुल गाँधी का यह कदम केवल एक पब्लिसिटी स्टंट था?

others like

Loved this? Spread it out then

Report

close

Select you are Reporting

expand_more
  • GreenPear
  • GreenPear
  • GreenStrawberry
  • GreenStrawberry
  • RedApple
  • RedApple
  • +2351 Active user
Post as @guest useror