Share this post

दिल्ली की इस लड़की ने सिखाया ज़िन्दगी जीने का तरीका, ICU में लिखी किताब 

कौन कहता है कि मोहब्बत की मिसाल सिर्फ ताज महल ही है, मुझे तो आम ज़िन्दगियों में शाहजहाँ और मुमताज़ के किस्सों से ज़्यादा मोहब्बत नज़र आती है। मैं बात कर रही हूँ RJ पल्लवी राव की जिनकी आवाज़ से पूरा दिल्ली शहर झूम उठता है, वह 2 बार कैंसर को हरा चुकी हैं और ऐसा समय भी देखा है जब डॉक्टर ने जवाब दे दिया था कि उनकी आवाज़ कभी नहीं निकल पाएगी। 

लेकिन उठकर चलने का नाम ही तो ज़िन्दगी है। और उस पर यदि राहुल नार्वेकर जैसे जीवन साथी का साथ मिल जाए तो मुश्किलें फिर यूँ लगती है जैसे ट्रैफ़िक की लाल लाइट, कुछ पल के लिए तो हमें रोक देती है लेकिन फिर सब नॉर्मल होकर मंज़िल की ओर बढ़ने लगते हैं। इनके बारे में कुछ लिख पाना सूरज को दिया दिखाने के सामान होगा, लेकिन फिर भी मैंने एक छोटी सी कोशिश की है। आइये जानते हैं इनके बारे में कुछ बातें।

दिल्ली की इस लड़की ने सिखाया ज़िन्दगी जीने का तरीका, ICU में लिखी किताब 

दिल्ली की इस लड़की ने सिखाया ज़िन्दगी जीने का तरीका, ICU में लिखी किताब 

754 396
  in People

पल्लवी और उनके पति राहुल 

पल्लवी और उनके पति राहुल 

RJ पल्लवी और उनके पति राहुल नार्वेकर का एक ही नुस्खा है- BE POSITIVE.  आमिर खान कहते हैं ना ALL IS WELL बस वही नुस्खा अपनाते हैं यह दंपत्ति भी। इनकी कहानी कोई हीर-राँझा की मोहब्बतों की दास्तान नहीं है। इनकी कहानी असल ज़िन्दगी में मोहब्बत को सही साँचे में उतारती है। एक आम सा कपल, मगर ख़ास सी दास्तान

RJ पल्लवी दिल्ली में कौन नहीं जानता

RJ पल्लवी दिल्ली में कौन नहीं जानता

वो कहते हैं ना, सोने को जितना घिसते हैं उतना चमकता है। वैसे भी उनकी यह मुस्कान ज़िन्दगी से बार-बार जीतने का नतीजा है। जिस आवाज़ ने आपको पहचान दी, अगर वही आवाज़ लोगों तक ना पहुँच पाए तो कैसा लगेगा? क्या हो यदि ऐसी एक सुबह, आपके जीवन को झिंझोड़ कर रख दे?

कैंसर से की है जंग 

कैंसर से की है जंग 

जिस बात की शायद हम कल्पना भी ना कर पाएं, उसी दौर से पल्लवी नें उठकर चलना सीखा है। पल्लवी 2 बार कैंसर को हरा चुकी हैं। जिस समय ICU में भर्ती थी वहाँ का सन्नाटा और आस-पास के लोग, उन्हें वो कहानियाँ बयान कर रहे थे जिसे पल्लवी दुनिया के सामने लाना चाहती थी।

मुस्कान बिखेरती है 

मुस्कान बिखेरती है 

अपनी आवाज़ से सबकी ज़िन्दगी में मुस्कान बिखेरती पल्लवी ने और बेहतर तरीक़े से सबको खुशियाँ बाँटना चाही। उन्होंने अपने विचारों को लफ़्ज़ों में ढाल कर उसे एक खूबसूत किताब का नाम दिया है "ICU"

विचारो को दिया किताब का रूप 

विचारो को दिया किताब का रूप 

यह महज़ एक किताब नही, पल्लवी की आँखों के सामने से गुज़रती हुई जीती जागती कहानियाँ है। मुझे तो यह हैरत की बात लगती है कि कोई ICU जैसे सख्त माहौल में भी लोगों के एहसास कैसे जान सकता है। पल्लवी वाक़ई क़ाबिले-तारीफ शख्सियत हैं।

सुनील नार्वेकर की छोटी सी दुनिया

सुनील नार्वेकर की छोटी सी दुनिया

पल्लवी समाज में भी एक जानी-मानी हस्ती हैं। उनके पति सुनील नार्वेकर एक व्यवसायी और बहुत आला शख्सियत भी हैं। राहुल NDTV Ethnic Retail Indianroots के CEO हैं और दुनिया में कामयाबी के अलावा इन्हें ईश्वर ने एक बहुत अच्छे इंसान के तौर पर भी नवाज़ा है।

तेरा साथ है तो मुझे क्या कमी है 

तेरा साथ है तो मुझे क्या कमी है 

जैसे गाड़ी के दो पहिये होते हैं वैसे ही हैं पल्लवी और राहुल। जहाँ पल्लवी खुद एक जंग लड़ रही है वहीं राहुल भी पति के रूप में एक मिसाल हैं। यह जोड़ा हम आजकल की जेनेरेशन के लिए वाक़ई एक आइडियल कपल है। जहाँ छोटी-छोटी बातों पर रिश्ते चूर-चूर हो जाते हैं वही ये दोनों एक-साथ एक-दूसरे के लिए खड़े होते हैं।

पल्लवी के शब्दों में 

पल्लवी के शब्दों में 

पल्लवी के शब्दों में कही यह बात, हमारे जीवन में भी बहुत मायने रखती है। पल्लवी ने लिखा है कि "हमें ज़रूरत है बाख़बर होने की, चीज़ों को सराहने की और उनका मज़ा उठाने की, इससे पहले की बहुत देर हो जाए" सच कहा है पल्लवी ने देर होने से पहले जी लो मेरे दोस्तों।

और उनके जन्मदिन पर पल्लवी का यह वीडियो 

पल्लवी अपने जन्मदिन पर ICU के उसी पलंग पर है जिस पलंग से उन्होंने किताब लिखी थी। हालात जो भी हो लेकिन मुस्कान वही है। हम दिल से दुआ करते हैं की आप जल्द ही सेहतमंद हो जाएं और आप दोनों की आने वाली ज़िन्दगी फूलों की तरह महकती रहे। 

Loved this? Spread it out then

Report

close

Select you are Reporting

expand_more
  • GreenPear
  • GreenPear
  • GreenStrawberry
  • GreenStrawberry
  • RedApple
  • RedApple
  • +2351 Active user
Post as @guest useror
stop

NSFW Content Ahead

To access this content, confirm your age by signing up.