SPONSORED

युवराज सिंह की माँ ने तोड़ी चुप्पी, अपनी बहु और बिग बॉस की कंटेस्टेन्ट आकांक्षा को दिया जवाब 

युवराज सिंह की माँ ने इस मामले में रखे अपने विचार। 

SPONSORED

Bigg Boss " " , ,

आकांक्षा ने लगाए थे आरोप 

आकांक्षा ने लगाए थे आरोप 

हाँ जी! मामला ताज़ा-ताज़ा ही है, जब युवी की भाभी ने बिग बॉस शो में जाने का कारण यह बताया था की वह युवी के परिवार से छुटकारा चाहती हैं। और indirectly उन्होंने युवी की माँ शबनम सिंह को निशाना बनाया था।

RELATED STORIES

SPONSORED
SPONSORED

किसी पर तो इल्ज़ाम आना ही था 

किसी पर तो इल्ज़ाम आना ही था 
via

शबनम जी कहती हैं कि किसी पर तो इसका इल्ज़ाम आना ही था अगर यह इल्ज़ाम उन पर लगा है कि आकांक्षा और ज़ोरावर के रिश्ते को उन्होंने खराब किया तो कोई बात नहीं। वह किसी पर कीचड़ उछालना नहीं चाहती।

 आकांक्षा ने पहले क्यों नहीं कहा कुछ

 आकांक्षा ने पहले क्यों नहीं कहा कुछ
via

शबनम जी कहती हैं कि इससे पहले आकांक्षा की ओर से कोई बात सामने नहीं आई थी। लेकिन अब जब उन्हें बिग बॉस का मंच मिल गया है तो अपने रिश्ते की याद कैसे आ गई। 

डाइवोर्स आकांक्षा ने नहीं हमने फाइल किया था 

डाइवोर्स आकांक्षा ने नहीं हमने फाइल किया था 
via

जहाँ एक ओर आकांक्षा कह रही थी की उन्हें युवराज और उनके परिवार से छुटकारा चाहिए वहीं दूसरी और शबनम सिंह का कहना है कि डाइवोर्स तो शबनम जी ने फाइल किया था आकांक्षा ने नहीं, तो फिर  छुटकारे की बात कहाँ से आ गई। 

आकांक्षा को याद दिला दूं कि 

आकांक्षा को याद दिला दूं कि 
via

आकांक्षा को यह याद रखना चाहिए की जब तक कोर्ट का कोई फैसला नहीं आ जाता तब तक लोगों के बीच केस से सम्बंधित कोई भी बात नहीं की जा सकती। मैडम आप फिर ग़लत हैं, आपकी बहु तो ऑलरेडी आपके बारे में बहुत कुछ बोल चुकी हैं।

मैं ऐसा नहीं कर सकती 

मैं ऐसा नहीं कर सकती 
via

शबनम जी कहती है की जो लोग मुझे जानते हैं वो लोग यह भी जानते होंगे की मैं ऐसा कुछ नहीं कर सकती, लेकिन मैडम आम जनता को कैसे पता चलेगा की सच क्या है। आप इधर अपनी चला रही है और आपकी बहु कुछ और ही राग सुना रही है।

मैं भी बहुत कुछ बोल सकती हूँ 

मैं भी बहुत कुछ बोल सकती हूँ 
via

शबनम कहती हैं कि वह भी अपना पक्ष रख सकती हैं। वह भी अपनी कहानी सुना सकती हैं। लेकिन वह ऐसा कुछ नहीं करना चाहती। वह किसी के ऊपर कीचड़ नहीं उछालना चाहती। ख़ैर यह तो आपकी अच्छी बात है लेकिन किसी पर तो कीचड़ उछलेगा ही।

हमे कोई फर्क नहीं पड़ता 

हमे कोई फर्क नहीं पड़ता 
via

शबनम सिंह ने तो इस तरह रुख मोड़ लिया जैसे कुछ हुआ ही नहीं। अरे मैडम! अगर कुछ हुआ नहीं तो बयान बाज़ी भी करने की कोई ज़रूरत नहीं है। वो कहते हैं ना "साँच को आँच नहीं होती" बस फिर "ENJOY MADAM"

आकांक्षा अपने जीवन में खुश रहे 

आकांक्षा अपने जीवन में खुश रहे 

शबनम का कहना है कि आकांक्षा वही कर रही है जैसा उन्हें सिखाया गया है। अगर वह ऐसा करके खुश है तो ईश्वर उन्हें हमेशा खुश रखे।

अरे भाई सुनना 

अरे भाई सुनना 
via

और यहाँ युवराज अपने अन्य साथियों से कह रहे होंगे "अरे भाई देखा तूने खाली-पीली मेरा परिवार फोकस में आ रहा है" तो साथी कहते होंगे "छोड़ ना भाई अभी तो 3 महीने हैं, दूध का दूध और पानी का पानी हो ही जाना है।" 

SPONSORED
s