Share this post

फेसबुक में देख ऐसा खूबसूरत चेहरा कर बैठा यह शख़्स ऐसी गलती 

फेसबुक एक ऐसी सोशल साईट जो बहुत से बिछड़े मित्रों से मिला देती हैं। फेसबुक के आज लाखों करोड़ो यूजर है इसी फेसबुक पर हमारे अनेक अनजाने दोस्त भी बन जाते हैं। जिन्हें हम कभी रियल लाइफ में मिले भी ना हो। फेसबुक हमारे अंदर ऐसा जुड़ाव पैदा कर देती है कि दिन में एक बार तो जरुर हम फेसबुक पर लॉग इन करते हैं। पर बहुत से लोग इसी फेसबुक का गलत फायदा भी उठाते हैं।

हाल ही में लखनऊ का यह युवक एक ब्रिटिश महिला की खूबसूरती का शिकार बना। आइये इस घटनाक्रम को थोड़ा और विस्तार से।

फेसबुक में देख ऐसा खूबसूरत चेहरा कर बैठा यह शख़्स ऐसी गलती 

फेसबुक में देख ऐसा खूबसूरत चेहरा कर बैठा यह शख़्स ऐसी गलती 

754 396
logo
  in People

फेसबुक से हुई शुरुआत

फेसबुक से हुई शुरुआत

फेसबुक पर हमें अनेक ऐसी ग्लैमरस फोटो वाली 'आई डी' दिखती रहती है और बहुत बार उन्ही में से किसी को हम ऐड कर लेते हैं। ऐसा ही हुआ लखनऊ के सुरेश के साथ, इन्होनें फेसबुक पर एक ग्लैमरस दिखने वाली लड़की से दोस्ती की। लड़की का नाम लेंडर जेरी था। सुरेश कहते हैं कि धीरे-धीरे हमारी जान पहचान बढ़ती गई और हम बहुत क्लोज हो गये थे। और महिला ने सुरेश से कहा कि मैं तुमसे मिलने भारत आना चाहती हूँ।

खूबसूरत दिखने वाली इस तस्वीर ने सुरेश को पागल कर दिया था

खूबसूरत दिखने वाली इस तस्वीर ने सुरेश को पागल कर दिया था

सुरेश कहते हैं कि मैं ख़ुशी से पागल हो रहा था, कोई विदेशी युवती उससे मिलने आ रही हैं। उसने 17 सितम्बर को सुरेश की जीमेल आई डी पर टिकट भी भेजा उसे देख सुरेश बहुत खुश हुए।

सिर्फ 18 दिनों में इतनी नजदीकियां

सिर्फ 18 दिनों में इतनी नजदीकियां

सुरेश ने कहा कि मुझे और लेंडर जेरी को दोस्त बने सिर्फ 18 दिन ही हुए थे। फेसबुक से दोस्ती की शुरुआत व्हाट्सएप्प तक पहुँच चुकी थी। हम व्हाट्सएप्प पर भी बातें करने लगे थे। 

19 सितम्बर को आया एक कॉल 

19 सितम्बर को आया एक कॉल 

सुरेश के पास 19 सितम्बर को सुबह 9:30 बजे 085889-57345 इस फोन नंबर से एक कॉल आई और कोई पूजा शर्मा नाम की लड़की बोल रही थी। पूजा शर्मा ने अपने आप को एयरपोर्ट कस्टम अधिकारी बताया और लेंडर जेरी के कस्टम क्लीयरेंस के नाम पर कुछ रुपये मांगे। सुरेश कहते हैं कि मैं खुश था, लेंडर जेरी मुझसे मिलने आ रही है।

कर दिए पैसे ट्रांसफर 

कर दिए पैसे ट्रांसफर 

सुरेश ने कहा कि ख़ुशी के मारे मैं पागल सा हो गया था और लेंडर जेरी ने व्हाट्सएप्प नंबर +447593761514 से भेजे बैंक खाता संख्या 104705001907, आईएफएससी कोड ICIC001047 और पैन नंबर BVFPG2602H पर अपने खाता नंबर 21401002641 से 50,000 रुपए ट्रांसफर कर दिए। इतना ही नहीं पूजा शर्मा ने दुबारा 15,000 रुपयों की मांग की तो मैंने वो भी इस आईसीआईसीआई बैंक खाता संख्या 104701509487 आईएफएससी कोड ICIC001047 पैन नंबर BVFPG2602H पर ट्रांसफर कर दिए।

लखनऊ का था अकाउंट नंबर

लखनऊ का था अकाउंट नंबर

सुरेश कहते हैं कि जैसे ही मैंने दोबारा रूपए ट्रांसफ़र किये और रिसिप्ट मिली तो मैं हैरान था। उन अकाउंट में से एक अकाउंट लखनऊ के ही किसी विवेक गुप्ता का था। उसके बाद मेने लेंडर जेरी का टिकट चैक करवाया तो वो भी फर्जी था। मुझे पता चल चुका था कि मेरे साथ ठगी हो चुकी है।

मिले पुलिस अफसर से

मिले पुलिस अफसर से

सुरेश ठगी के बाद आईजी रूल्स एंड मैन्युअल्स अफसर अमिताभ ठाकुर से मिले। उन्होंने कहा कि उनके द्वारा सख्त कार्यवाही की जायेगी और बहुत जल्द इस ठगी का पर्दाफाश होगा। पुलिस के अनुसार लखनऊ की ही ऐसी कोई गैंग है जो ऐसे फेसबुक और व्हाट्सएप्प के जरिये लोगों को लूट रही है।

Loved this? Spread it out then

Report

close

Select you are Reporting

expand_more
  • GreenPear
  • GreenPear
  • GreenStrawberry
  • GreenStrawberry
  • RedApple
  • RedApple
  • +2351 Active user
Post as @guest useror